जीवन के 8 सवाल | 8 Questions of life

life

जीवन के 8 सवाल | 8 Question of life  Question of life   मैं कौन हूं , मैं क्या कर रहा हूं, मेरे साथ ही हमेशा ये क्यों होता है, मेरे जीवन का उद्वेश्य क्या है, मेरे सपने क्या है, मेरी बात का क्या असर होता है लोगो पर, मैं कैसे सबसे अलग बनूं, समय … Read more

सफ़लता के 12 महत्वपूर्ण नियम || 12 Important Laws of Success

सफ़लता के 12 महत्वपूर्ण नियम || 12 Important Laws of Success

अगर आपकी उम्र 18 से 45 तक की है तो ये आपके लिए है मन को शांत रख के पुरे एकाग्रता के साथ इसे पढ़े और ये 12 नियम ऐसे है जिन्हे पढ़ने के बाद आपको सब पता होगा कि कैसे आपको सफलता मिल सकती है पढ़ने के बाद कमेंट में अपनी राय जरुर दें

 सफ़लता के नियम
   ( Laws Of Success )

 

तो आइए जानते है कि कैसे हम इन नियमों को अपने जीवन मे उतारकर सफ़लता प्राप्त कर सकते है फिर आपको दुनियां की कोई ताकत सफल बनने से रोक नही सकती है.

 

1- समय का सही उपयोग ( Time is the most valuable thing ) –

 

Time Management

धन से भी ज्यादा महंगा होता है समय हमारे पास 24 घंटे ही होते है संसार की सबसे मूल्यवान चीज है – समय कोई इसका सही इस्तेमाल कर के कोई इतिहास रच देता है और कोई समय को बर्बाद कर खुद बर्बाद हो जाता है जो समय एक बार चला जाता है वो दोबारा लौट कर नही आता है फिर आप चाहें छात्र हो या नौकरी पेशा करने वाले इंसान समय किसी के लिए नही रुकता इसलिए लाइफ खुल कर जियो बिंदास हो कर जियो समय का सही इस्तेमाल करने के कुछ तरीके

 

A – सुबह जल्दी उठना ( Wake up early morning ) –

 

Healthy Morning

क्या आप देर तक सोते है ? यदि हां तो आप यकीन मानिए आप अपना मूल्यवान समय खोते जा रहें है कुछ लोग कहेंगे हम रात में देर तक काम करते है इसलिए देर से उठते है इसमें गलत क्या है ? आपकी जानकारी के लिए बता दूं सुबह देर तक सोने से ना केवल आपका समय नष्ट हो जाता है आपको सिर दर्द होने लगता है कभी कभी जिसके कारण आपका पूरा दिन भी खराब हो जाता है जैसे आप खुद को फ्रेश फील नही करेंगे, दिन भर कुछ न कुछ सोचते रहेंगे, हमेशा आलस में रहेंगे, कोई काम में फोकस नहीं रह पाएंगे पर अगर सुबह जल्दी उठने के आदत बना ली जाए तो आप दूसरे से कई गुना आगे जा सकते है सुबह उठने से मानसिक स्वास्थ्य और शारीरिक स्वास्थ्य दोनो ही स्वस्थ होने लगते है

यह वही समय जब अधिकांश लोग उठ कर समय का सही उपयोग करना जानते है और सबसे आगे चलकर सफल व्यक्ति बन जाते है तो आप भी सुबह जल्दी उठना शुरु करदो अगर आप तनाव में भी रहते होंगे तो सुबह उठने से तनाव दूर हो जाएगा यह बात हमेशा याद रखना ” जो जल्दी सोता है जल्दी उठता है उसी के पास स्वास्थ्य , बुद्धि और पैसा होता है।

 

 

B – आलस से बचे ( Avoid laziness ) –

 

 

बच्चे हो या बड़े हर कोई आलस्य की चपेट में आ जाता हैं एक आलसी व्यक्ति सिर्फ तन से ही नही वो मन से भी होता है आलस हम इंसानों का बहुत बड़ा दुश्मन है जैसे कि जब हम कोई ऑफिस का कार्य कर रहें हो या अपने कॉलेज का प्रॉजेक्ट बना रहे हो तो कहते रहने दो बाद में कर लूंगा कल कर लूंगा ऐसा ही करते करते समय नष्ट करते रहते है इसे ही आलस्य कहा गया है आपने देखा होगा कि सफल व्यक्ति जो होता है वो कभी कभार आलसी हो सकता है पर जब काम हो तब वो तुरंत चुस्ती फुर्ती दिखाते हुए अपने कार्य में तेजी से जुट जाता है ये उसकी सफ़लता का सबसे बड़ा कारण हैं आलस्य पर जीत और आलस्य को हराने का तरीका है कि मन को नियंत्रण में करो सफल व्यक्ति कभी मन के अनुसार कार्य नहीं करते है जो काम करना है उसे हर हाल में पूरा करते है मन मेहनत नहीं करना चाहता। आलसी व्यक्ति कभी मेहनत नहीं करना चाहेगा इसलिए आलस छोड़ने का प्रयास करिए सुबह जल्दी उठना सीखिए धीरे धीरे आलस्य आपका जाने लगेगा और आप अपने काम में तेज होने लगेंगे

 

C – दिनचर्या ( A Routine )

 

 

 

आज के समय में लोग समय के हिसाब से नहीं चलते बल्कि समय को अपने हिसाब से चलाते है आजकल के बच्चे बच्चियां जब मन आ गया तो उठ गए जब मन नहीं है तो सो गए या टीवी में लगे है कोई उनका न लक्ष्य होता है न ही कोई दिलचस्पी ऐसे ही लोग जीवन मे कुछ नही कर पाते है अगर आप छात्र हो और ये आर्टिकल पढ़ रहे हो तो समझ जाइए अभी भी देर नहीं हुए है एक पेन और कॉपी लीजिए उसमे अपना लक्ष्य लिखिए जो आपको आगे चलकर पाना हैं उस कापी में अपनी रोज की दिनचर्या लिखिए सुबह से शाम तक सारी बात लिखिए कि इस टाइम पर पढ़ाई इस टाइम पर ये काम उसके बाद उस रूटीन को फ़ॉलो करिए उसके बाद धीरे धीरे आपके सब काम होने लगेंगे बस समय के हिसाब से चलिए।

 

चिंता नहीं              –            चिंतन करो

पछतावा नहीं          –            सुधार करो

सोचो नहीं              –           शुरुवात करो

आलस नहीं            –           मेहनत करों

विनाश नही            –          निर्माण करों

अपमान नहीं          –          सम्मान करो

 

 

2 – शब्द का महत्व ( Importance of Words ) –

 

Positive Words

 

शब्द हमारे पुरे जीवन में बहुत अहम होते है हम जीवन में कहां होते है कहां पर जाने वाले होते है ये सब कहीं न कहीं शब्दो का ही खेल होता है सकारात्मक सोच के साथ साथ पॉजिटिव शब्द बोलने से भी लाइफ में बहुत ऊर्जा आती है अगर आपके मन में तनाव है या आप दुखी रहते हो तो ये सकारात्मक शब्द बोलने से आपको एक ऊर्जा का आभास होगा बस प्रतिदिन सुबह या किसी एक टाइम पर बोलना शुरू करिए जैसे कि मैं बेस्ट हूं मैं एक सफल व्यक्ति हूं मैं सब कुछ कर सकता है आदि ये सब affirmation बोल सकते है।

 

3 – सकारत्मक व्यवहार रखना ( Keep Positive Attitude ) –

 

Positive Attitude

 

क्या आपके साथ ये हुआ हैं कि आप किसी काम को करने की बार बार कोशिश कर रहे हो और वो काम हो ही नहीं रहा है आप कोशिश करते जा रहे हो ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकी आप जिस भी काम को कर रहे हो तो उसमे आप परफेक्ट नहीं हो इसलिए आपको अभ्यास करने को जरूरत है अगर अभ्यास करने के बाद भी वो काम नहीं हो रहा है तो  Positive Attitude नहीं है मतलब आप ये अपने से मान ही नही रहे हो कि ये काम मैं कर सकता हैं आपको सकारात्मक सोच रखनी पड़ेगी ये mindset लाना पड़ेगा कि मैं ये कर सकता हूं जब तक आपको अंदर से ये विश्वास ( confidence ) नहीं होगा तब तक आप सफल नही बन सकतें इसका उपाय यहीं है कि अपने ऊपर विश्वास रखिए कि आप ये कर सकते है फिर देखिए कैसे सब कुछ अच्छा अच्छा होता चला जाएगा

 

4 – विनम्र रहे ( Be Polite )

 

 

आजकल के नवजवान में सबसे बड़ी यही समस्या होती है कि वो विनम्र नहीं रहते है फिर चाहें उनके सामने उनके माता पिता हो या गुरू ध्यान दीजिएगा व्यक्ति की ग्रोथ क्यों नहीं होती है क्यों इंसान एक स्थिति पर एक ऊंचाई पर आकर अटक जाता हैं वो इसलिए होता है क्योंकि उसके अंदर अहंकार आ जाता हैं कि ये सब मेरी वजह से है और सब मेरे आगे कुछ नही है बस यही अहम उन्हें डूबा लें जाता है मेरी बात किसी किसी को बुरी भी लग सकती है पर कुछ नवजवान अपने आप को बहुत बड़ा ज्ञाता मानने लगते हैं इसलिये एक समय बाद वो फिर वहीं पहुंच जाते है जहां पर पहले थे इसलिए जीवन में एक बात गांठ बांध लिजिए कि अगर आपकों अपनी ग्रोथ हमेशा बढ़ती हुए ही चाहीए तो अपना स्वभाव विनम्र रखिए माता पिता और गुरू से ही नही सबके साथ बहुत प्यार से शान्ति से बात करिए जो आपसे पूछे आपने कैसे इतनी बड़ी सफ़लता हासिल कर ली तो आप कहिए बस आप जैसे दोस्तो का साथ और माता पिता का आशीर्वाद मुझे यहां तक लाया है यकीन मानिए हमेशा आप तरक्की करते ही रहेंगे।

 

 

5 – हमेशा कुछ न कुछ सीखते रहना ( Always Learning ) –

 

 

बच्चे हों या बड़े एक समय के बाद वो सीखना बंद कर देते है पर सीखना बंद करना इसका मलतब खुद को पिछे की ओर धकेलना इस कंपीटीशन भरे युग में हर व्यक्ति को सीखते रहना चाहिए जिस भी फील्ड में आप कर रहें हो उस फील्ड के बारे में और जानो और गहराई में जाओ वो चीज कभी न कभी काम जरुर करेंगी इससे बहुत फायदा होता है और आप समय के साथ अपडेट भी रहोगे चलिए उदाहरण में मान लेते है Ai ( Artificial Intelligence ) जब से ai आ गया है तब से बहुत धमाका मचा रहा है अब तो इन्सान का काम ये ai कर देता हैं इससे बहुत लोग घबरा गए होगे पर यकीन मानिए ये ai समय के साथ आया है इसलिए हमे भी समय के साथ चलना पड़ेगा आज के समय में खुद को बेहतर बनाना पड़ेगा तभी हम एक long term success पा सकते है।

 

 

जरुर पढ़ें : प्रेमानंद जी के सफलता के मंत्र

 

6 – योग व व्यायाम ( Exercise And Yoga ) –

 

 

सफलता का सबसे बड़ा राज होता है स्वास्थ्य जब तक आपका स्वास्थ्य सही नही होगा तब तक आपकी किसी भी काम में मन नही लगेगा इसलिए व्यायाम करिए जिससे आपको एनर्जी मिलेगी हां मानता हूं शुरुवात में थोड़ा शरीर दर्द होगा पर जैसे जैसे आपकी आदत बन जायगी आप बिलकुल सही हो जाएंगे इसलिए योग और व्यायाम जरुर करिए।

 

7 – ईच्छाशक्ति ( Willpower ) –

 

कुछ लोग बड़ी आसानी जीवन में कोई भी कार्य आसानी से पुरे कर जाते है और कुछ लोग पूरा जीवन लगा देते है वो कार्य पूरा नहीं कर पाते है जानते है क्यों ? इन दोनो में बस एक छोटा सा अंतर है वो है इच्छाशक्ति का जिस व्यक्ति के कार्य पलक झपकते हो रहे है उसकी इच्छाशक्ति बहुत मजबूत है इच्छाशक्ति से जीवन में बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है क्योंकी जब आप किसी काम को पुरी मेहनत और पुरी लगन से पूरा करते है उसके बाद यही सोचते है कि ये कार्य मेरा जरुर होगा उसे ही इच्छाशक्ति कहा गया है जिसके अंदर एक जज्बा होता हैं कि मुझे ये हर हाल में पूरा करना है वो लोग जीत जाते है और जो कहते है ” अरे छोड़ो हुआ तो ठीक नही तो और कोई काम कर लेंगे ” ऐसे व्यक्ति इस इच्छाशक्ति को जागृत नहीं कर पाते है।

 

 

8 – खुद पर विश्वास और लगातार प्रयास ( Self Belief And Hard Work ) –

 

 

 

 

आज के समय की सच्चाई ये है कि अभी भी ऐसे बहुत युवा है जो ज़िंदगी में करना तो बहुत कुछ चाहते है कि बड़ा घर हो गाड़ी हो उनके अमीरों वाली लाइफ के सारे सपने होते है लोगों के अमीरों जैसे सपने तो होते है पर उनकी आदत नहीं अपनाते देखिए बड़े सपने देखिए कोई दिक्कत नही बड़ा सोचिए बहुत अच्छी बात है पर उसके साथ साथ उसे अपने जीवन में भी उतारिए सिर्फ लेटे लेटे सपने देखने से या मोटीवेशन वीडियो सुनने से कुछ नहीं होने वाला आप जब तक कर्म नहीं करोगे तब तक आपकी मदद ईश्वर भी नहीं कर सकता क्योंकी ईश्वर भी उन्ही की मदद करता है जो अपने सपनो को साकार  करने के लिए लाइफ से लड़ना जानते है आप अपनें सपनो के लिए तैयार हो जीवन में कुछ करना है तो हर समय का उपयोग करो अगर आप सफल नही भी हो पाते फिर भी प्रविश्वास यास करना बंद मत करो क्योंकी ” लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती कोशिश करने वालों की हार नहीं होती ” अपने काबिलियत पर भरोसा रखो किसी अमीर व्यक्ति को आपने देखा होगा उसके अंदर भारी मात्रा में खुद पर विश्वास और सत्य संकल्प रहता है तो अब बारी आपकी है अब आपको पता है कि आगे आपको क्या करना है मेरा काम आपको समझाना था अब चयन आपका।

 

9 – निर्णय लेना ( Decision Making ) –

 

निर्णय लेना कब कहां कैसे लेना है ये हमे पता होना चाहीए बहुत लोग अपने जीवन में इतना ज्यादा दूसरों पर निर्भर हो जाते है कि उनको खुद पर विश्वास ही नहीं होता है जिस वजह से लाइफ में आ रहे opportunities से हाथ धो बठते है क्योंकी उनमें खुद से फैसला लेने की क्षमता ही नहीं होती पर आपको ये नही करना है हा मैं ये नहीं कह रहा हूं कि किसी से राय मत लिजिए आप बेशक लिजिए पर अपना निर्णय आप स्वयं से लिजिए इससे आपके अन्दर एक अलग लेवल का आत्मविश्वास आता है।

10 – गलती मानना सीखे ( Admit Fault ) –

 

हमारा स्वाभाव ऐसा होना चाहिए कि अगर हमारी गलती हो तो मानना चाहिए लोग अक्सर बस बहस करते रहते है झगड़ा करते है कि मैं ही सही हूं पुरी दुनिया गलत है ऐसा attitude आपकी सफ़लता में बाधा हो सकता है आपको चाहीए अगर कोई गलती हो जाए आपके काम में उसे स्वीकार करिए उसको सुधारिए उससे सीखिए फिर आगे बढ़ना’ चलो मान लेते है आपने गलती अपनी नहीं मानी तो इससे नुकसान हैं कि आपके मन में एक गिल्ट कहीं न कहीं जरुर रहेगा कि मैंने क्यों किया इसलिए समय रहते अगर कोई गलती हो जाए तो कोई बात नही गलती को स्वीकार करो फिर आगे बढ़ जाओ इससे मानसिक रूप से आप मजबूत रहेंगे।

 

11 – चार लोगो की मत सुनो ( Don’t listen to four People ) –

 

हम कई बार इस वजह से भी आगे नही बढ़ पाते क्योंकी हम सोचते है अरे मैं ऐसा काम शुरु करुंगा तो चार लोग क्या कहेंगे हम पूरा जीवन इसी में गुजार देते है कि वो चार लोग क्या कहेंगे यकीन मानिए लोग तब तक ही खुश रहते है जब तक आप उनके नीचे या बराबर पर रहते है पर जहां आप थोडा उनसे ऊंचे स्तर पर जाने लगते हो तो आपके बारे में बाते बनने लगती है लोग नीचा दिखाने की कोशिश करते है कहते है अरे ये कोई बड़ी बात नहीं है ये तो मैंने कर के छोड़ दिया लोग आपसे जलने लगते है अपनो को छोड़कर इसलिए लोगो का काम है कहना आप जो करना चाहते है करिए वो 4 लोगो को कहने दीजिए उनकी बातों से अपना लक्ष्य मत बदलिए क्योंकी वही चार लोग आपकी सक्सेस के बाद आप को सम्मानित भी करते है।
” जीवन का सबसे बड़ा रोग “
” क्या कहेंगे लोग

 

 

4 people rejoicing in your success

 

12 – खुश रहना ( Be Happy ) –

 

अगर आप यहां तक आए तो जरुर आप अपनी लाइफ में सफलता को लेके काफी सीरियस है आप सच में कुछ बड़ा करने की ताकत रखते है आपने ऊपर के ये 11 पॉइंट्स पढ़े होंगे तो आपको सब चीजे step by step फ़ॉलो करनी है पर एक प्यारी सी स्माइल के साथ हमेशा खुश रहने की आदत डाले जितना हो सके खुश रहिए सुबह उठिए तो एक चुस्ती के साथ उठिए क्योंकी हमेशा ज्यादा खुश रहने से सफ़लता का रास्ता बहुत ही आसान हों जाता है

 

laws of success

 

Conclusion Note –

यह पोस्ट जो भी व्यक्ति चाहें वो एक छात्र हो, एक नौकरी पेशा करने वाला व्यक्ति हो या एक व्यापारी हो जो भी इसे पढ़ कर इसमें दी गई जानकारी अपने जीवन में उतारेंगा वो एक सफल व्यक्ति के साथ साथ दूसरों से कई गुना आगे जा सकता है। यह पोस्ट अपने बेटे बेटी, दोस्त यार को जरुर शेयर करें जिन्हे आप लाइफ में सफल देखना चाहते है।

{ LIFE CHANGING BLOG }

√ कमेंट में बताए कि कैसा लगा आपको ये आर्टिकल धन्यवाद ∆

खुद को हमेशा सकारात्मक कैसे रखें | How To Be Positive Always

how to be positive always

हमेशा Positive सोचने के क्या फायदे है ? इसको मुख्य दो रूप से समझा जा सकता है ।  A. वैज्ञानिक आधार से B. भक्ति के आधार से How to be Positive Always   A. वैज्ञानिक आधार से ( Scientific Examples )   अगर वैज्ञानिक दृष्टि से इसको समझा जाए तो जब हम हमेशा खुश रहते … Read more